Biology (NTSE/Olympiad)  

4. उत्सर्जन

वृक्क अथवा नेफ्रोन की संरचना

प्रत्येक नेफ्रोन एक मैल्पीघी काय से बना होता है, जो कि एक बोमेन सम्पुट तथा रूधिर कोशिकाऐं के जाल से मिलकर बना होता है। वृक्कक में प्रवेश करने वाली रक्त केशिका अभिवाही तथा बाहर निकलने वाली कोशिका को अपवाही धमनी कहा जाता है। मेल्पीघियन नलिका 3 भागों में विभाजित होती है, जो कि U आकार की नलिका बनाते हैं।
(A) समीपस्थ कुण्डिलिस नलिका: ये बोमेन सम्पुट के पास स्थित होती है।
(B) हेन्ले का पाश: ये एक 'U' आकार की पतली नलिका होती है।
(C) दूरस्थ कुण्डिलित नलिका: यह संग्रह नलिका से जुड़ी हुर्इ होती है।

हेन्ले पाश की आरोही भुजा आगे चलकर संग्रह नलिका में खुलती है तथा एक बड़ी नलिका वेलिनी की नलिका का निर्माण करते हैं, जो कि पेल्विस में वृक्क स्तम्भ के शीर्ष पर खुलती है। सम्पूर्ण वृक्क रूधिर केशिका के जाल द्वारा घिरी होती है। जिसे वासा रेक्टा कहते हैं।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Biology (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Biology (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें