Biology (NTSE/Olympiad)  

9. प्राकृतिक संसाधनों का प्रबन्धन

प्राकृतिक स्त्रोत

प्राकृतिक स्त्रोत प्रकृति के जैविक व अजैविक घटक है। जो मानव द्वारा उनकी भोजन, चारे, शरण, कपडे, वस्तुओं के उपयोग तथा पुर्ननिर्माण की आवश्यकताओं के लिए, जीवनोपयोगी, या जीवनक्षम होती है।
अपार संसाधन:
अपार संसाधन वे होते है जो इतनी अधिकता में मिलते है कि वे असम्भवत: समय के साथ सीमित होते है। उदाहरण. जल, वायु, सूर्य ऊर्जा।
सीमित संसाधन:
सीमित संसाधन वे संसाधन है जो लगातार दोहन से समाप्त या सीमित हो जायेंगें।
सीमित संसाधन दो प्रकार के होते है।
(i) नवीकरणीय संसाधन: नवीकरणीय संसाधन वे सीमित संसाधन है, जो प्रकृति द्वारा पुर्नभरित होते है तथा जब तक उपलब्ध होते रहते है, तब तक यदि उनको उनकी उपलब्धता से अधिक उपयोग नहीं किया जाता है। उदाहरण वन, वन्यजीव, मृदा।
(ii) अनवीकरणीय संसाधन: अनवीकरणीय संसाधन वे संसाधन होते है, जो लगातार उपयोग से सीमित हो जाते है, क्योंकि उनमें पुर्न उत्पत्ति की कमी होती है। उदाहरण- जीवाश्मीय र्इंधन।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Biology (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Biology (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें