Economics (NTSE/Olympiad)  

4. वैश्वीकरण और भारतीय अर्थव्यवस्था

भारत में वैश्वीकरण का सकारात्मक प्रभाव

1. उत्पादों की किस्में :
कर्इ बहुराष्ट्रीय कम्पनियाँ भारत में अपनी पूंजी निवेश करती है। अत: भारतीय उपभोक्ता गुणात्मक तथा कर्इ किस्मों के उत्पाद न्यून दरों पर प्राप्त कर सकते हैं।
2. आधारभूत ढांचों में विकास :
इस योजना के कारण आधारभूत ढांचों की स्थिति में मानक रूप से सुधार हुआ है। सरकार स्वर्ण चतुभ्र्ाुज का निर्माण कर रही है जो सभी मुख्य शहरों को जोड़ेगा। संचार क्षेत्राक में अधिक प्रगति देख सकते हैं।
3. भारतीय कम्पनियों के लिए वृद्धि :
इस योजना के कारण निजी क्षेत्राक अधिक तेजी से लाभ कमाते हैं। अब निजी क्षेत्राक अन्य देशों से कच्चे माल तथा तकनीक के आयात के लिए स्वतंत्रा है। आयात तथा निर्यात पर से कर्इ प्रतिबंध हटा लिये गये है। वैश्वीकरण कुछ योग्य बड़ी भारतीय कम्पनियाँ रखता है जो अपने आप बहुराष्ट्रीय कम्पनियों के रूप में उभरी है। टाटा मोटर्स, इन्फोसिस, रेनबेक्सी, एशियन पैंट आदि कुछ कम्पनियाँ है जो अपने विश्व विस्तार संचालन में फैल रही है।
4. सेवा क्षेत्राक के लिए वृद्धि :
वैश्वीकरण सेवा देने वाली कम्पनियों विशेष रूप से वे जिनमें सूचना तथा संचार तकनीकी शामिल है, के लिए नए अवसर भी निर्मित करती है।
5. विदेशी मुद्रा तथा विदेशी समक्ष निवेश :
विदेशी मुद्रा नर्इ आर्थिक योजना के कारण बड़े विस्तार का कर्इ गुना रखते हैं। विदेशी समक्ष निवेश जो 1991 में 174 करोड़ रूपये था 2000 में 9, 338 करोड़ बढ़ गया।
6. आधुनिक व्यापार का वैश्विक रूप :
वैश्वीकरण के कारण व्यापार अब विश्व में आने लगा है। अब भारत माल का आयात व निर्यात करता है। हमारे व्यवसाय भी सभी प्रकार के विदेशी बाजारों में प्रवेश कर चुके है।
7. होड़ में वृद्धि:
वैश्वीकरण की प्रक्रिया तथा उदारीकरण विभिन्न उद्योगों के बीच होड़ में वृद्धि करते हैं। यह होड़ निजी तथा सार्वजनिक क्षेत्राक की दक्षता तथा उत्पादकता में वृद्धि करते हैं।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Economics (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Economics (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें