Economics (NTSE/Olympiad)  

4. वैश्वीकरण और भारतीय अर्थव्यवस्था

निजीकरण

निजीकरण उदारीकरण का दूसरा घटक है।
इसका अर्थ है निजी क्षेत्राकों को उद्योग स्थापना की अनुमति देना इसका अर्थ है। निजी क्षेत्राकों को उद्योग स्थापना की अनुमति देना जो पूर्व से ही सार्वजनिक क्षेत्राकों के लिए आरक्षित थी।
इसके लिए निम्न कदम उठाए जाने चाहिए :
1. सार्वजनिक क्षेत्राक के लिए आरक्षित उद्योगों की संख्या 71 से 3 तक बदलनी चाहिए।
2. अब निजी क्षेत्राक बाहरी उद्योगों में जैसे लौहा तथा स्टील विध्युत परिवहन संचार, जहाज निर्माण आदि में प्रवेश कर सकते हैं।
3. वे सार्वजनिक क्षेत्रा उद्योग जो नुकसान में है के सम्मान अनिवेशन प्रक्रिया सरकार द्वारा प्रारम्भ की गर्इ है।
4. निजी क्षेत्राक कर्इ प्रतिबंधों जैसे लाइसेंस कच्चे माल के आयात के लिए लाइसेंस मूल्यो का नियंत्राण तथा निवेश पर प्रतिबंध आदि से स्वतंत्रा है।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Economics (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Economics (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें