Geography (NTSE/Olympiad)  

2. जल संसाधन

बहु-उद्देशीय परियोजनाओं की हानियाँ

1. अधिक मूल्य : बाँध बनाने के लिए प्रारम्भिक मूल्य अधिक होता है। इसके लिए दक्ष अभियंता तथा आाध्ुनिक मशीनों की आवश्यकता होती है, जो कि भारत में उपलब्ध नहीं होते है।
2. पर्यावरण पर विपरीत प्रभाव : वनस्पति जन्तु की कर्इ किस्में एवं यहां तक की मनुष्य के रहने का स्थल भी बाँध द्वारा निर्मित जलाशयों में उपस्थित जल में निमग्न हो जाते है।
3. मृदा की उर्वरकता पर विपरीत प्रभाव : बाँध के निर्माण के कारण नदियों में वार्षिक बाढ़ नहीं आती है। इस कारण नहीं के निचले भाग की मृदा को अधिक पोषण 'सिल्ट' प्राप्त नहीं होता है। इस कारण मृदा की उर्वरकता कम हो जाती है।
4. जलीय जीवन पर विपरीत प्रभाव : नदियों पर बाँध के कारण नीचले क्षेत्रों में रहने वाली मछलियों को पूर्ण पोषक पदार्थ प्राप्त नहीं हो पाते है।
5. वर्ष भर जल का उपलब्ध ना होना : भारत में कुछ ही नदियाँ है जो पूरे वर्ष बहती है। इस लिए बाँध बनाने के लिए जल पर्याप्त नहीं होता है।
6. विभिन्न राज्यों के मध्य विवाद : जल का वितरण, बाँध की ऊँचार्इ तथा अनेक ऐसे कारण है जिसके कारण राज्यों में विवाद रहते है।
7. स्थानीय समुदायों का विस्थापन : स्थानीय लेाग अक्सर अपने स्थानों तथा आजीविका को छोड़ देते हैं तथा राष्ट्र के लिए अधिक भोजन के लिए समाप्त संसाधनों को नियंत्रितकरते है।
8. फसलीय प्रणाली में परिवर्तन : यह किसानों को सिंचार्इ के लिए सीमित संसाधन उपलब्ध करवाते है। इस कारण किसानों को फसल प्रणाली में परिवर्तन करना पड़ता है। इस कारण ऐसी फसल लगाते है। जिसमे जल का कम उपयोग हो ओर वह व्यवसायिक रूप से उपयोगी हो। लेकिन इस कारण मृदा की क्षारीयता बढ़ जाती है जिससे पारिथितिकीय असंतुलन हो जाता है।
9. नदियों की व्यवस्था तथा बांध के प्रभाव के कारण इनका प्राकृतिक बहाव प्रभावित होता है इस कारण कमज़ोर तलछट बहाव तथा जलाशयों के आधार पर तलछट का जमाव अधिक हो जाता है, जो चट्टानों का रूप ले लेता है तथा जलिय जीवन के लिए अनुकूलित नहीं होता है।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें