Geography (NTSE/Olympiad)  

2. विनिर्माण उद्योग

खनिज आधारित उद्योग

खनिज आधारित उद्योग :
वे उद्योग जो खनिज व धातुओं को कच्चे माल के रूप में प्रयोग करते हैं, खनिज आधारित उद्योग कहलाते हैं।
लोहा तथा इस्पात उद्योग :
1. लोहा तथा इस्पात उद्योग एक आधारभूत (basic) उद्योग है। क्योंकि अन्य सभी भारी, हल्के और मध्यम उद्योग इनसे बनी मशीनरी पर निर्भर हैं।
2. विविध प्रकार के इंजीनियरिंग सामान, निर्माण सामग्री, रक्षा चिकित्सा, टेलीफोन वैज्ञानिक उपकरण और विभिन्न प्रकार की उपभोक्ता वस्तुओं के निर्माण के लिए इस्पात की आवश्यकता होती है।
3. लोहा तथा इस्पात एक भारी उद्योग हैं क्योंकि इसमें प्रयुक्त कच्चा तथा तैयार माल दोनों ही भारी और स्थूल होते हैं और इसके लिए अधिक परिवहन लागत की आवश्यकता होती हैं।
4. इस उद्योग के लिए लौह-अयस्क, कोकिंग कोल तथा चूना पत्थर का अनुपात लगभग 4 : 2 : 1 है। इस्पात को कठोर बनाने के लिए इसमें मैंगनीज की कुछ मात्रा की भी आवश्यकता होती है।
5. भारत 328 लाख टन इस्पात का विनिर्माण कर संसार में कच्चा इस्पात उत्पादकों में नवें स्थान पर है।
6. इस समय भारत में 10 मुख्य संकलित उद्योग तथा बहुत से छोटे इस्पात संयंत्रा हैं।
7. सार्वजनिक क्षेत्रा के लगभग सभी उपक्रम अपने इस्पात को स्टील अथॉरिटी ऑफ इण्डिया (SAIL) के माध्यम से बेचते हैं जबकि टिस्को (TISCO) टाटा स्टील के नाम से अपने उत्पाद को स्वयं बेचती है।
8. छोटा नागपुर के पठारी क्षेत्रा में अधिकांश लोहा तथा इस्पात उद्योग संकेंद्रित हैं इस प्रदेश में इस उद्योग के विकास के लिए अधिक अनुकूल सापेक्षिक परिस्थितियाँ हैं।
(A) इनमें लौह अयस्क की कम लागत।
(B) उच्च कोटि के कच्चे माल की निकटता।
(C) सस्ते श्रमिक और स्थानीय बाजार में इनके माँग की विशाल संभाव्यता सम्मिलित है।
लौह तथा इस्पात उद्योग की समस्याऐं :
1. उच्च लागत तथा कोकिंग कोयले की सीमित उपलब्धता।
2. ऊर्जा की कमी।
3. कम श्रमिक उत्पादकता।
4. ऊर्जा की अनियमित पूर्ति तथा
5. अविकसित अवसंरचना आदि।
भारतीय सरकार द्वारा उत्पादन की समस्याओं के सुधार के लिए उठाये गये चरण :
1. सरकार ने उदारवादी, निजीकरण वैश्वीकरण की नर्इ आर्थिक योजना को अपनाया है।
2. सरकार ने विदेशियों को प्रोत्साहित किया की वे सीधे सेक्टरों में निवेश करें।
3. सरकार द्वारा कर में छूट की योजना बनायी।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें