Geography (NTSE/Olympiad)  

1. संसाधन एवं विकास

मृदा अपरदन

मृदा अपरदन : मृदा के कटाव और इसके बहाव की प्रक्रिया को मृदा अपरदन कहा जाता है।
मानवीय क्रियाओं द्वारा मृदा अपरदन
1. वनोन्मूलन : वनों का लापरवाही से काटना इसका परिणाम हैं जो कि मृदा अपरदन की समस्याओं को अग्रसर कर रहा है।
2. अति पशुचारण : इस कारण मृदा की संरचना कमजोर हो रही है तथा वर्षा से मृदा आसानी से अपने स्थान से बह जाती है।
3. गलत विधि से कृषि : गलत ढंग से हल चलाना जैसे ढाल पर ऊपर से नीचे की ओर हल चलाने से वाहिकाएं बन जाती है, जिसके अंदर से बहता पानी आसानी से मृदा का कटाव करता है।
प्राकृतिक तत्व जैसे पवन, हिमनदी, और जल मृदा अपरदन कहते है।
1. बहता जल मृत्तिकायुक्त मृदाओं को काटते हुए गहरी वाहिकाएँ बनाता है, जिन्हे अवनलिकाएँ करते है।
2. ऐसी भूमि जोतने योग्य नहीं रहती और इसे उत्खात भूमि (bad land) कहते हैं। चंबल बेसिन में ऐसी भूमि को खड्ड (ravine) भूमि कहा जाता है।
3. कर्इ बार जल विस्तृत क्षेत्रा को ढके-हुए ढाल के साथ नीचे की ओर बहता है। ऐसी स्थिति में इस क्षेत्रा की ऊपरी मृदा घुलकर जल के साथ बह जाती है। इसे चादर अपरदन (sheet erosion) कहा जाता है।
4. पवन द्वारा मैदान अथवा ढालू क्षेत्रा से मृदा को उड़ा ले जाने की प्रक्रिया को पवन अपरदन कहा जाता है।
गलत ढंग से हल चलाने जैसे ढाल पर ऊपर से नीचे की ओर हल चलाने वाहिकाएँ बन जातीहै, जिसके अंदर से बेहता पानी आसानी से मृदा का कटाव करता है:
1. ढाल वाली भूमि पर समोच्च रेखाओं के समान्तर हल चलाने से ढाल के साथ जल बहाव की गति घटती है। इसे सम्मोच जुतार्इ कहा जाता है।
2. ढाल वाली भूमि पर सोपान बनाए जा सकते हैं। सोपान कृषि अपरदन को नियंत्रितकरती है। पश्चिमी और मध्य हिमालय में सोपान अथवा सीढ़ीदार कृषि काफी विकसित है।
3. बड़े खेतों को पट्टियों में बाँटा जाता है। फसलो के बीच में घास की पट्टियाँ उगार्इ जाती है। ये पवनों द्वारा जनित जल को कमजोर करती है। इस तरीके को पट्टी कृषि (Strip Farming) कहते हैं।
4. पेड़ों को कतारों में लगाकर रक्षक (shelter belt) मेखला बनाना भी पवनों की गति कम करता है।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें