Geography (NTSE/Olympiad)  

2. विनिर्माण उद्योग

रसायन उद्योग

इस उद्योग के दो घटक हैं।
1. अकार्बनिक रसायन।
2. कार्बनिक रसायन।
अकार्बनिक रसायन :
अकार्बनिक रसायनों में सलफ्यूरिक अम्ल (उर्वरक कृित्राम वस्त्रा, प्लास्टिक, गोंद, रंग-रोगन, डार्इ आदि के निर्माण में प्रयुक्त), नाइट्रिक अम्ल, क्षार सोडा ऐश (काँच, साबुन शोधक या अपमार्जक , कागज में प्रयुक्त होने वाले रसायन) तथा कास्टिक सोडा आदि शामिल हैं। इन उद्योगों का देश में विस्तृत फैलाव है।
कार्बनिक रसायन :
कार्बनिक रसायनों में पेट्रोरसायन शामिल हैं जो कृित्राम वस्त्रा, कृित्राम रबर, प्लास्टिक रंजक पदार्थ, दवाइयाँ, औषध रसायनों के बनाने में प्रयोग किये जाते हैं। ये उद्योग तेल शोधन शालाओं या पेट्रोरसायन संयंत्रों के समीप स्थापित हैं।
रसायन उद्योग की उपयोगिता
1. रोजगार :
लोगों की अधिकतम संख्या के लिए यह रोजगार का बड़ा स्त्रोत है।
2. विदेशी आयात - निर्यात :
रसायन तथा रसायनिक उत्पादों का भार से निर्यात होता है।
3. भूमि पर दबाव में कमी :
लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाकर भूमि के दाब में कमी करते हैं।
4. कृषि का विकास :
कृषि में हानिकारक कीट तथा खरपतवार के नियंत्राण के लिए यह पीड़कनाशी तथा खरपतवारनाशी की आपूर्ति करते हैं।
5. जी.डी.पी. तथा राष्ट्रीय आय का योगदान:
यह जी.डी.पी. का 3 % योगदान देता है। सरकार के काम में 20 % योगदान देता है।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें