Geography (NTSE/Olympiad)  

2. विनिर्माण उद्योग

उर्वरक उद्योग

उर्वरक उद्योग
1. उर्वरक उद्योग नाइट्रोजनी उर्वरक (मुख्यत: यूरिया) फॉस्फेटिक उवर्रक (D.A.P.) तथा अमोनियम फास्फेट और मिश्रित उवर्रक जिसमें तीन मुख्य पोषक उर्वरक नाइट्रोजन, फॉस्फेट व पोटाश शामिल हैं
2. पोटाश पूर्णत: आयात किया जाता है।
3. भारत नाइट्रोजनी उर्वरकों का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक है।
4. यहाँ 57 उर्वरक इकार्इयाँ हैं जो नाइट्रोजन तथा मिश्रित नाइट्रोजनी उर्वरक निर्मित करती हैं 29 इकाइयाँ यूरिया उत्पादन तथा 9 इकाइयाँ उप-उत्पाद (by producing) के रूप में अमोनियम सल्फेट का उत्पादन करती हैं तथा 68 अन्य लघु इकाइयाँ मात्रा सुपरफॉस्फेट का उत्पादन करती है।
5. वर्तमान समय में सार्वजनिक क्षेत्रा में दस उपक्रम तथा भारतीय उर्वरक निगम (FCI) गुजरात के हजीरा में सहकारी क्षेत्रा के अंतर्गत एक उपक्रम कार्यरत है।
6. हरित क्रांति के पश्चात् यह उद्योग देश के अन्य अनेक भागो में भी फैल गया। गुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, पंजाब और केरल राज्य कुल उर्वरक उत्पादन का लगभग 50 प्रतिशत उत्पादन करते हैं। अन्य महत्त्वपूर्ण उत्पादक राज्य आंध्र प्रदेश, उड़ीसा, राजस्थान, बिहार, महाराष्ट्र, असम, पश्चिम बंगाल, गोआ, दिल्ली, मध्य प्रदेश तथा कर्नाटक हैं।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Chemistry (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें