Physics (NTSE/Olympiad)  

4. प्रकाश अपवर्तन

अपवर्तनांक

(a) प्रकाश की चाल के पदों में अपवर्तनांक :
किसी माध्यम का अपवर्तनांक प्रकाश की चाल के पदों में निम्न प्रकार परिभाषित किया जाता है :

या

(b) तरंगदैध्र्य के पदों में अपवर्तनांक :
जब प्रकाश एक माध्यम से दूसरे माध्यम में जाता है तो आवृत्ति (v) अपरिवर्तित रहती हैं।
इसलिए,

(c) सापेक्ष अपवर्तनांक :
माध्यम 2 का माध्यम 1 के सापेक्ष अपवर्तनांक, प्रकाश की माध्यम 1 में चाल (V1) तथा प्रकाश की माध्यम 2 में चाल (V2) का अनुपात है और इसे 1µ2 द्वारा प्रदर्शित किया जाता हैं -
इस प्रकार,

क्योंकि अपवर्तनांक दो समान भौतिक राशियों का अनुपात है, इसलिए इसकी कोर्इ इकार्इ व विमा नहीं होती हैं।
वह कारक जिन पर किसी माध्यम का अपवर्तनांक निर्भर करता है :
(i) माध्यम की प्रकृति
(ii) प्रयुक्त प्रकाश की तरंगदैध्र्य
(iii) ताप
(iv) परिवेश के माध्यम की प्रकृत्ति
यह निर्देशित किया जाता है कि अपवर्तनांक माध्यम के युग्मों का अभिलाक्षणिक गुण है और यह प्रकाश की तरंगदैध्र्य पर निर्भर करता है, लेकिन यह आपतन कोण पर निर्भर नहीं करता हैं।

यदि आप भी दुसरे स्टूडेंट्स / छात्र को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी देना चाहते है तो इसे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर अधिक से अधिक शेयर करे | जितना ज्यादा शेयर होगा, छात्रों को उतना ही लाभ होगा | आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए है |

×

एन. टी. एस. ई . Physics (कक्षा X)


एन. टी. एस. ई . Physics (कक्षा IX)


विस्तार से अध्याय देखें

भौतिक विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

रसायन विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

भूगोल CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

जीव विज्ञान CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

लोकतांत्रिक राजनीति CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

अर्थशास्त्र CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें

इतिहास CBSE कक्षा 9th व 10th कोर्स देखें