जीव विज्ञान


अध्याय : 5. नियंत्रण एवं सामंजस्य

तंत्रिका कोशिका की संरचना

न्यूरॉन अथवा तंत्रिका कोशिका तंत्रिका आवेग आवेग के संचरण हेतु विशेषीकृत, तंत्रिका तंत्र की कार्यात्मक तथा सरंचनात्मक इकार्इ है यह लगभग 90 - 100 cm लंबी होती है। न्यूरॉन के 3 भाग होते है - कोशिका काय, एक्सॉन

प्रतिवर्ती क्रियाएँ: प्रतिवर्ती क्रियाएँ क्रियाकारी अंग द्वारा दर्शायी जाने वाली
बाहृय तथा आंतरिक संवेदनाओं के प्रति शीघ्र तथा तीव्र प्रतिक्रिया है। प्रतिवर्ती क्रियाएँ 2 प्रकार की होती है।
सरल प्रतिवर्ती क्रियाएँ: ये जन्मजात, वंशागत प्रतिक्रियाएँ होती है उदाharan : पक्षियों का घोंसला बनाना
प्रतिबंधित प्रतिवर्ती क्रियाएँ: इस प्रकार की क्रियाएँ ऐसी क्रियाओं के अभ्यास के फलस्वरूप उत्पन्न होती है जो कि सामान्य परिस्थिति में कोर्इ प्रतिक्रिया नहीं दर्शाते। उदाharan - लिखना, गाड़ी चलाना आदि।

नवीनतम लेख और ब्लॉग


Download Old Sample Papers For Class X & XII
Download Practical Solutions of Chemistry and Physics for Class 12 with Solutions



महत्वपूर्ण प्रश्न



NTSE Physics Course (Class 9 & 10) NTSE Chemistry Course (Class 9 & 10) NTSE Geography Course (Class 9 & 10) NTSE Biology Course (Class 9 & 10) NTSE Democratic Politics Course (Class 9 & 10) NTSE Economics Course (Class 9 & 10) NTSE History Course (Class 9 & 10) NTSE Mathematics Course (Class 9 & 10)